दिल्ली सल्तनत Quiz
Advertisement

अनुक्रम | Contents

दिल्ली सल्तनत Quiz

दिल्ली सल्तनत से सम्बंधित अपना सामान्य ज्ञान परखें।

गुलाम वंश का संस्थापक कौन था?

Correct! Wrong!

1206 -1290 ईसवी तक दिल्ली सल्तनत के सुल्तान गुलाम वंश के सुलतानों के नाम से विख्यात हुए। दिल्ली सल्तनत का संस्थापक कुतुबुद्दीन ऐबक था। दिल्ली सल्तनत के सभी सुल्तान एक ही वंश के नहीं थे।वे अलग-अलग वंशों के तुर्क थे। दिल्ली सल्तनत के सभी सुल्तान गुलाम भी नहीं थे।जो कभी गुलाम रहे वे भी सुल्तान बनने से पहले स्वतंत्र हो चुके थे। इस लिए गुलाम वंश के सुल्तान कहने की अपेक्षा इन्हें प्रारंभिक तुर्क सुल्तान या ममलूक सुल्तान कहना अधिक उपयुक्त है।

Advertisement

दिल्ली सल्तनत का वास्तविक संस्थापक कौन था?

Correct! Wrong!

दिल्ली का कौनसा सुल्तान लाख-बख्श के नाम से जाना जाता है?

Correct! Wrong!

निम्नलिखित में से किसने कुतुबुद्दीन मीनार के निर्माण में योगदान नहीं दिया?

Correct! Wrong!

कुतुब मीनार का निर्माण कुतुबुद्दीन ऐबक ने प्रारंभ कराया।इसका निर्माण इल्लतुतमिश के समय पर पूरा हुआ। फिरोजशाह तुगलक के समय में इसकी चौथी मंजिल का नुक़सान हुआ था इसलिए फिरोजशाह तुगलक ने चौथी और पांचवीं मंजिल का निर्माण कराया।

दिल्ली के किस सुल्तान की मौत चौगान खेलते समय घोड़े से गिरने से हुई?

Correct! Wrong!

कुतुबुद्दीन ऐबक की राजधानी थी-

Correct! Wrong!

किस सुल्तान ने दिल्ली को सल्तनत की राजधानी बनाया?

Correct! Wrong!

दिल्ली का वह सुल्तान जिसने पहली बार नियमित सिक्के जारी किए कौन था?

Correct! Wrong!

मध्य युग में भारत की पहली महिला शासक कौन थी?

Correct! Wrong!

मध्यकालीन भारत की पहली महिला शासक रजिया सुल्तान (1236-1240) थी।

निम्नलिखित में से किस सुल्तान के समय भारत पर मंगोल शासक चंगेज खां के आक्रमण का खतरा आ गया था?

Correct! Wrong!

तुर्कान ए चहलगानी का गठन किसने किया था?

Correct! Wrong!

तुर्कान ए चहलगानी का अर्थ है चालीस तुर्की सरदारों का दल ।

दिल्ली के किस सुल्तान ने रक्त और लौह की नीति अपनाई?

Correct! Wrong!

बलवन ने सिद्धांत और व्यवहार में यह माना कि सुल्तान का निरंकुश होना आवश्यक है। बहुत अधिक कठोरता के कारण शासन संबंधी उसकी नीति को रक्त और लौह की नीति कहा गया है।

'सुल्तान पृथ्वी पर ईश्वर का प्रतिनिधि है', यह सिद्धांत किस सुल्तान का है?

Correct! Wrong!

बलवन ने राजत्व के दैवीय सिद्धांत का प्रतिपादन किया जिसके अनुसार सुल्तान का पद ईश्वर के द्वारा प्रदत्त है और उसका स्थान पैगंबर के बाद है। सुल्तान पृथ्वी पर ईश्वर का प्रतिनिधि (नियामत ए खुदाई) है।

निम्नलिखित में से किस ने भारत में फारसी त्यौहार नौरोज को आरंभ कराया?

Correct! Wrong!

निम्नलिखित में से कौन-सा एक कथन बलबन के संबंध में सही नहीं है?

Correct! Wrong!

बलवन का वास्तविक नाम बहाउद्दीन था। सुल्तान नासिरुद्दीन महमूद ने उलुग खां की उपाधि दी थी। बलबन का शासन काल 1266-1286 ईसवी था। बलवन अपने राजत्व संबंधी विचारों के लिए प्रसिद्ध है। उसके राजत्व का सिद्धांत का सार फारस से प्रेरित है। बलबन ने सुल्तान या राजा को नियामत ए खुदाई अर्थात ईश्वर का प्रतिनिधि कहा है। सत्ता में आने के बाद बलबन ने कठोरता की नीति अपनाई जिसे रक्त और लौह की नीति कहा गया है। उसने इल्लतुतमिश द्वारा गठित चालीस तुर्की सरदारों के दल तुर्कान ए चहलगानी का दमन कर उसे समाप्त कर दिया। बलबन के समय में एकमात्र विद्रोह 1279 ईसवी में बंगाल के सूबेदार तुगरिल खां ने किया था जिसे बलबन ने कठोरता से दबा दिया।इक्तादारी व्यवस्था इल्लतुतमिश द्वारा प्रचलित किया गया था।

किस सुल्तान ने बाजार नियंत्रण प्रणाली लागू की थी?

Correct! Wrong!

किस सुल्तान के समय खालसा भूमि सबसे अधिक पैमाने पर विकसित हुई?

Correct! Wrong!

किस सुल्तान ने दो आब में भूमि कर को फसल के 50% तक कर दिया था?

Correct! Wrong!

घरी (गृह कर) और चरी (चराई कर) नामक दो नये कर किस सुल्तान ने लगाया था?

Correct! Wrong!

दिल्ली सल्तनत का सर्वाधिक विद्वान सुल्तान जो खगोलशास्त्र, गणित और आयुर्विज्ञान सहित अनेक विधाओं में पारंगत था कौन था?

Correct! Wrong!

अमीर ए कोही(कृषि विभाग) एक नया विभाग किस सुल्तान के समय प्रारंभ किया गया था?

Correct! Wrong!

किस सुल्तान ने पृथक कृषि विभाग की स्थापना कराई और फसल चक्र अपनाया?

Correct! Wrong!

दिल्ली से देवगिरी (दौलताबाद) राजधानी परिवर्तन का आदेश किस सुल्तान ने दिया था?

Correct! Wrong!

इब्नबतूता किसके शासनकाल में हिंदुस्तान आया था?

Correct! Wrong!

इब्नबतूता (1333-1347) मोरक्को मूल का अफ्रीकी यात्री था। यह मुहम्मद बिन तुगलक के शासनकाल में भारत आया था। मुहम्मद बिन तुगलक ने इसे दिल्ली का काजी नियुक्त किया था। 1342 में राजदूत बनाकर चीन भेजा गया। इब्नबतूता ने किताब उल रेहला नाम की पुस्तक में अपनी यात्रा का विवरण प्रस्तुत किया है।

इतिहासकार बदायूंनी ने किसकी मृत्यु पर कहा था कि "सुल्तान को प्रजा से और प्रजा को सुल्तान से मुक्ति मिल गई।"

Correct! Wrong!

दीवान ए खैरात (दान विभाग) किसने स्थापित किया था?

Correct! Wrong!

सर्वप्रथम लोक निर्माण विभाग की स्थापना किसने की थी?

Correct! Wrong!

दिल्ली का कौनसा सुल्तान नहरों के निर्माण के लिए प्रसिद्ध है?

Correct! Wrong!

हक्क ए शर्ब अथवा सिंचाई कर लगाने वाला दिल्ली का पहला सुल्तान कौन था?

Correct! Wrong!

दिल्ली के किस सुल्तान ने ब्राह्मणों पर भी जजिया कर लगाया था?

Correct! Wrong!

टोपरा तथा मेरठ के दो अशोक स्तंभ लेख किस सुल्तान ने दिल्ली लाया था?

Correct! Wrong!

तैमूरलंग ने किसके शासनकाल में भारत पर आक्रमण किया था?

Correct! Wrong!

तैमूर ने किस सन में भारत पर आक्रमण किया था?

Correct! Wrong!

आगरा शहर किसने बसाया?

Correct! Wrong!

विजयनगर साम्राज्य की स्थापना किसने की?

Correct! Wrong!

कृष्णदेव राय के दरबार में अष्ट दिग्गज कौन थे?

Correct! Wrong!

निम्नलिखित में से किसे आंध्र भोज भी कहा जाता है?

Correct! Wrong!

कृष्णदेव राय के संबंध में निम्नलिखित में से कौन सा एक कथन असत्य है?

Correct! Wrong!

अब्दुल रज्जाक किसके शासनकाल में विजयनगर आया था?

Correct! Wrong!

संस्कृत के प्रसिद्ध विद्वान सायण किसके आश्रय में था?

Correct! Wrong!

विजयनगर साम्राज्य के संस्थापक हरिहर और बुक्का नामक दो भाई थे। इन्होंने अपने गुरु माधव विद्यारण्य की प्ररेणा से विजयनगर साम्राज्य की स्थापना की। इन्ही विद्यारण्य के भाई सायण को भी इन्होंने संरक्षण दिया।

विजयनगर साम्राज्य का महानतम शासक कौन था?

Correct! Wrong!

कृष्णदेव राय (1509-1529) विजयनगर का महानतम शासक था।

तालीकोटा का युद्ध कब हुआ?

Correct! Wrong!

1565 में बहमनी राज्यों की संयुक्त सेनाओं ने विजयनगर को बुरी तरह से पराजित किया।इसे राक्षसी तड़ंगी का युद्ध भी कहते हैं क्योंकि युद्ध का वास्तविक क्षेत्र राक्षसी और तड़ंगी नामक दो गांवों के बीच था। केवल बरार ने इस युद्ध में भाग नहीं लिया।तालीकोटा युद्ध के समय विजयनगर का शासक सदाशिव राय (1542-1572) था, किंतु वास्तविक शक्ति उसके मंत्री रामराय के हाथों में थी।

होयसल स्मारक निम्नलिखित में से कहां पाये जाते हैं?

Correct! Wrong!

होयसल राज्य की राजधानी द्वारसमुद्र थी। इसका वर्तमान नाम हलेबिड है जो कर्नाटक के हासन जिले में है।यह अपने स्थापत्य के लिए विख्यात है। यहां 12वीं-13वीं सदी का प्रसिद्ध होयसलेश्वर मंदिर भी है जिसे होयसल नरेश नरसिंह प्रथम का लोकनिर्माण विभाग का मुख्य अधिकारी केतमल्ल के निरीक्षण में शिल्पकार केदरोज ने बनाया

होयसलों की प्राचीन राजधानी द्वारसमुद्र का वर्तमान नाम क्या है?

Correct! Wrong!

हंपी नामक स्थल पर किस साम्राज्य के ध्वंसावशेष मिलते हैं?

Correct! Wrong!

 

और पढ़ें:

Advertisement

1 टिप्पणी

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here