रसायन विज्ञान

रसायन विज्ञान सामान्य ज्ञान
  • इलेक्ट्रान ऋण-आवेशित होता है।
  • PVC विनाइल क्लोराइड का बहुलक है।
  • सैकरीन टाल्यूईन से बनता है।
  • मानव ने सबसे पहले तांबा धातु का प्रयोग किया।
  • प्राकृतिक गैस का मुख्य घटक मीथेन है।
  • लाल चींटियों में फोर्मिक अम्ल पाया जाता है।
  • माणिक्य और नीलम एल्युमीनियम ऑक्साइड है।
  • बर्तन बनाने के लिए उपयोग में आने वाली मिश्र धातु जर्मन सिल्वर कॉपर, जिंक तथा निकल का एलाय है।
  • LPG (द्रवित पेट्रोलियम गैस) में प्रोपेन और ब्यूटेन गैस होता है।
  • तम्बाकू में निकोटिन पाया जाता है।
  • रेडियो सक्रियता की खोज हेनरी बेकुरल ने की थी।
  • पिने के पानी में कीटाणु नाशक के रूप में क्लोरीन का प्रयोग होता है।
  • ब्लीचिंग पाउडर के रूप में कैल्सियम हाइपोक्लोराइट, कैल्सियम क्लोराइड और कैल्सियम हाइड्रोक्साइड तीनों का इस्तेमाल किया जाता है।
  • मार्श गैस में मुख्यतः मीथेन होता है।
  • गोबर गैस में भी मुख्यतः मीथेन होता है।
  • सिल्वर ब्रोमाइड का उपयोग फोटोग्राफी में होता है।
  • आसुत जल (distilled water) सर्वाधिक शुद्ध जल होता है। इसके बाद वर्षा का जल शुद्ध होता है।
  • रेयान एक कृत्रिम रेशा है जो सेल्यूलोस से बनता है।
  • गंदे पानी को साफ़ करने के लिए फिटकरी का उपयोग होता है।
  • साबुन उद्योग से मिलने वाला बाई-प्रोडक्ट ग्लिसरॉल है।
  • कपड़ों से जंग के धब्बे हटाने के लिए ओक्सालिक एसिड का प्रयोग किया जाता है।
  • डिटर्जेंट में सोडियम और पोटाशियम के बाईकार्बोनेट होतें हैं।
  • TNT – trinitrotoluene एक विष्फोटक है जो अमोनियम नाइट्रेट के मिश्रण से तैयार किया जाता है।
  • एंजाइम मूल रूप से प्रोटीन होते हैं।
  • पैराशूट टेरीलीन से बनता है।
  • दूध एक प्राकृतिक पायस (इमल्शन) है।
  • पुराने तैल-चित्रों को सुधरने के लिए हाइड्रोजन पर आक्साइड का प्रयोग किया जाता है।
  • गुब्बारों में हाइड्रोजन की जगह हीलियम गैस भरी जाती है क्योंकि यह अक्रिय गैस है तथा हाइड्रोजन की तरह ज्वलनशील नहीं है।
  • रक्त में लोहा धातु पाया जाता है।
  • लोहे में जंग लगना ऑक्सीकरण की प्रक्रिया है।
  • पेट्रोलियम हाइड्रोकार्बनों का मिश्रण है।
  • सोने की शुद्धता कैरट में बताई जाती है।
  • शुद्धतम सोना 24 कैरट का होता है।
  • वेसिलीन पेट्रोलियम से प्राप्त होता है।
  • साधारण नमक का रासायनिक नाम क्या है?- सोडियम क्लोराइड NaCl.
  • धोने का सोडा का रासायनिक नाम क्या है?- सोडियम कार्बोनेट
  • खाने के सोडा का रासायनिक नाम क्या है?- सोडियम बाई कार्बोनेट
  • खाने का सोडा का दूसरा नाम क्या है?- बेकिंग सोडा।
  • बेकरी में किस सोडा का प्रयोग करते हैं?- बेकिंग सोडा।
  • बुझा हुआ चूना रासायनिक दृष्टि से क्या है?- कैल्शियम हाइड्रक्साइट।
  • मरा हुआ चूना रासायनिक दृष्टि से क्या है?- कैल्शियम कार्बोनेट।
  • चाक क्या है?- कैल्शियम कार्बोनेट है, मरा हुआ चूना है।
  • ताजा चूना का रासायनिक नाम क्या है?- कैल्शियम आक्साइड।
  • कापर सल्फेट को नीला थोथा कहते हैं।
  • कौन सी गैस हंसाने वाली गैस है?- नाइट्रस ऑक्साइड।
  • जिप्सम क्या है?- कैल्शियम सल्फेट है।
  • शुष्क बर्फ किसे कहते हैं?- ठोस कार्बन-डाई-ऑक्साइड को शुष्क गैस कहते हैं।
  • लाल दवा क्या होती है?-पोटेशियम परमैंगनेट को लाल दवा कहते हैं।
  • शोरा का रासायनिक नाम क्या है?- पोटेशियम नाइट्रेट।
  • शोरा या पोटेशियम नाइट्रेट का इस्तेमाल किसमे किया जाता है?- बारुद बनाने के लिए शोरा या पोटेशियम नाइट्रेट का इस्तेमाल किया जाता है।
  • बारूद अर्थात् गन पाउडर किनका मिश्रण है?- गंधक (सल्फर), कोयला (चारकोल) और शोरा (पोटेशियम नाइट्रेट) के मिश्रण से बारूद बनाया जाता है।
  • बारुद या गन पाउडर का आविष्कार किसने किया?- रोजर बेकन ने बारूद का आविष्कार किया।
  • उर्ध्वपातन की प्रक्रिया क्या होती है?- जब कोई पदार्थ ठोस गरम करने पर द्रव नहीं बनकर सीधे गैस बन जाता है तो इस क्रिया को उर्ध्वपातन की प्रक्रिया कहते हैं। कपूर, नौसादर आदि उर्ध्वपाती पदार्थ हैं।
  • परमाणु की संरचना का सिद्धांत किसने दिया?- डाल्टन ने।
  • इलेक्ट्रान की खोज किसने की?- जे जे टामसन ने इलेक्ट्रान की खोज की।
  • परमाणु के नाभिक अर्थात् केंद्र में कौन सा कण होता है?- प्रोटान
  • प्रोटान में कौन सा आवेश रहता है?-  धन आवेश।
  • इलेक्ट्रान में कौन सा आवेश रहता है?- ऋण आवेश।
  • न्यूट्रॉन की खोज किसने की?- हेनरी चेडविक ने न्यूट्रॉन की खोज की।
  • परमाणु के किस कण में कौई आवेश नहीं रहता?- न्यूट्रॉन उदासीन कण है अर्थात्  उसमें कोई आवेश नहीं होता।
  • परमाणु में इलेक्ट्रान कहां रहता है?- इलेक्ट्रान परमाणु के नाभिक अर्थात् केंद्र का चक्कर लगाते रहते हैं।
  • सबसे हल्का तत्व कौन-सा है?- हाइड्रोजन सबसे हल्का तत्व है।
  • सबसे हल्का धातु क्या है?- ओसमियम सबसे हल्का धातु है।
  • कौन-सा धातु सामान्य तापमान में भी द्रव अर्थात् तरल अवस्था में रहता है?- पारा।
  • थर्मामीटर में किसका इस्तेमाल किया जाता है?- पारा का इस्तेमाल थर्मामीटर में किया जाता है।
  • कौन-सा अधातु विद्युत का सुचालक होता है?- ग्रेफाइट विद्युत का सुचालक होता है।
  • शरीर में सबसे अधिक मात्रा में कौन-सा तत्व पाया जाता है?- आक्सीजन शरीर में सबसे अधिक मात्रा में पाया जाने वाला तत्व है।
  • शरीर में सबसे अधिक मात्रा में पाये जाने पदार्थ कौन-सा है?- पानी।
  • किस धातु को मिट्टी के तेल में डूबा कर रखा जाता है? – सोडियम को मिट्टी के तेल में डूबा कर रखा जाता है नहीं तो उसमें आग लग जाती है।
  • सबसे ज्यादा आक्सीकारक पदार्थ कौन-सा है?- फ्लोरीन सबसे ज्यादा ऋणात्मक अर्थात् आक्सीकारक पदार्थ है।
  • अम्ल का स्वाद कैसा होता है? – खट्टा।
  • नीले लिए पेपर को कौन सा पदार्थ लाल करता है?- अम्ल।
  • लाल लिटमस पेपर को कौन सा पदार्थ नीला करता है?- क्षार नीले लिटमस को लाल करता है।
  • अम्ल का pH मान कितना होता है?-  अम्ल का pH मान 7 से कम होता है।
  • क्षार का पी एच मान कितना होता है?- क्षार का पी एच मान 7 से अधिक होता है।
  • जल का पी एच मान कितना होता है?- जल का पी एच मान 7 होता है। अर्थात् जल न अम्लीय होता है और न ही क्षारीय होता है जल उदासीन होता है।
  • सबसे प्रबल अम्ल कौन-सा है?- हाइड्रोक्लोरिक अम्ल HCl सर्वाधिक प्रबल अम्ल है।
  • नाइट्रिक अम्ल का उपयोग किन कार्यों में किया जाता है?- फोटोग्राफी​ में, उर्वरक बनाने में, विस्फोटक बनाने में तथा सोने चांदी के शुद्धिकरण में नाइट्रिक अम्ल का उपयोग किया जाता है।
  • फार्मिक अम्ल का उपयोग किन कार्यों में किया जाता है?- फार्मिक अम्ल का उपयोग फलों को संरक्षित करने तथा रबर और चमड़ा पकाने में किया जाता है।
  • बेंजोइक अम्ल का उपयोग किन कार्यों में किया जाता है?- बेन्जोइक अम्ल का उपयोग दवा बनाने और खाद्य पदार्थों के संरक्षण के लिए किया जाता है।
  • सल्फ्यूरिक एसिड का इस्तेमाल किन कार्यों में किया जाता है?- सल्फ्यूरिक अम्ल का उपयोग संचायक बैटरी, पेट्रोलियम शोधन और अन्य उद्योगों में किया जाता है।
  • एसीटिक एसिड का इस्तेमाल किस लिए किया जाता है?- एसीटिक एसिड का उपयोग सिरका बनाने में किया जाता है।
  • हाइड्रोक्लोरिक अम्ल का उपयोग किन कार्यों में होता है?- HCl का इस्तेमाल अम्ल राज (एक्वा-रेजिया) बनाने में किया जाता है।
  • अम्लराज (एक्वा-रेजिया) कैसे बनता है?- तीन भाग सांद्र हाइड्रोक्लोरिक अम्ल और एक भाग सांद्र नाइट्रिक अम्ल का मिश्रण अम्लराज कहलाता है।
  • अम्लराज की क्या विशेषता है?- अम्लराज इतना अधिक प्रबल होता है कि उसमें सोना और प्लेटिनम जैसे धातु भी घुल जाते हैं।
  • अम्ल और क्षार की प्रतिक्रिया से क्या बनता है?- लवण और पानी बनते हैं।
  • इमली में कौन-सा अम्ल पाया जाता है?- इमली में टार्टरिक अम्ल पाया जाता है।
  • दूध के खट्टा होने पर कौन सा अम्ल बनता है?- लेक्टिक एसिड।
  • सिरका और आचार में कौन-सा अम्ल होता है?- एसीटिक एसिड।
  • मूत्र में कौन-सा अम्ल पाया जाता है?- यूरिक  एसिड।
  • नींबू वर्गीय फलों में कौन-सा अम्ल होता है?- साइट्रिक एसिड के कारण नींबू कुल के फल खट्टे होते हैं।
  • सेब फल में कौन-सा अम्ल पाया जाता है?- सेब में मैलिक एसिड होता है।
  • सोडा वाटर और कोल्डड्रिंक में कौन-सा अम्ल पाया जाता है?- कार्बोनिक अम्ल।
  • लाल चींटियों में कौन-सा अम्ल होता है?-  लाल चींटियों में फार्मिक अम्ल होता है।
  • हीरा और ग्रेफाइट किसके अपररूप हैं?- कार्बन अर्थात् कोयला के अपरूप हैं।
  • कार्बन का सबसे अधिक शुद्ध रूप क्या है?- हीरा कार्बन का शुद्धतम रूप है।
  • हीरा किस तरह की चट्टानों में मिलता है?- हीरा किंबरलाइट पाइपों में मिलता है जो चट्टानों में पत्थरों के होते हैं।
  • सबसे अधिक कठोर पदार्थ कौन-सा है?- हीरा सबसे ज्यादा कठोर पदार्थ है।
  • हीरे की क्या क्या विशेषताएं हैं?- हीरा रंगहीन, पारदर्शक, सबसे अधिक चमकीला और सबसे ज्यादा कठोर पदार्थ है।
  • हीरा का वजन किसमें नापा जाता है?- हीरा का वजन कैरेट में मापा जाता है। जबकि कैरेट से सोने की शुद्धता नापी जाती है।
  • हीरा का अपवर्तनांक कितना होता है?- हीरे का अपवर्तनांक 2.4 होता है।
  • हीरा किस तरह चमकता है?- पूर्ण आंतरिक परावर्तन के कारण प्रकाश की किरणें एक बार हीरे में प्रवेश करने के बाद उसी के अंदर ही घूमती रहती हैं और बाहर नहीं निकल पातीं इसलिए हीरा बहुत ही अधिक चमकता है।
  •  पेंसिल की लीड किस पदार्थ से बनती है?- पेंसिल की लीड ग्रेफाइट से बनती है।
  • ग्रेफाइट का दूसरा क्या उपयोग है?- ग्रेफाइट का इस्तेमाल संचालक सेलों में इलेक्ट्रोड बनाने में भी होता है।
  • काजल में कितने प्रतिशत कार्बन होता है?- काजल में 95% कार्बन होता है।
  • कार्बन का शुद्धतम रूप कौन-सा है?- हीरा कार्बन का शुद्धतम रूप है।
  • सबसे अच्छा किस्म का कोयला कौन-सा है?- ऐन्थ्रेसाइट सबसे अच्छी किस्म का कोयला हैं जिसमें 94% कार्बन होता है।
  • कौन-सा कोयला सबसे खराब होता है?-  पिट कोयला ।
  • सामान्य किस्म के कोयला कौन-सा है?- बिटुमिनस कोयला सामान्य कोयला है जिसमें 88% तक कार्बन होता है।
  • कार्बन और हाइड्रोजन के यौगिकों को हाइड्रोकार्बन कहते हैं।
  • मिथेन सबसे सरल हाइड्रोकार्बन है।
  • मिथेन को मार्श गैस या दलदली गैस भी कहते हैं क्योंकि यह दलदली जमीन में भी उत्पन्न होता है।
  • धान की खेतों में लगातार पानी होने से जमीन दलदली होती है इसलिए धान की खेतों में मिथेन गैस उत्पन्न होती है।
  • बायोगैस या गोबर गैस का मुख्य घटक मिथेन होता है।
  • दो या अधिक अणुओं के मिलकर बड़े अणु बनने की रासायनिक क्रिया को बहुलीकरण कहते हैं।
  • इस प्रकार बहुलीकरण से बने अणु को बहुलक कहते हैं।
  • असंतृप्त हाइड्रोकार्बन के बहुलीकरण से प्लास्टिक प्राप्त होता है।
  • पालीथिन एथिलीन का बहुलक है।
  • रेयान, पालीएस्टर, नायलान कृत्रिम रेशे हैं।
  • रेयान सेल्यूलोज से बनता है।
  • पालीएस्टर जैसा कि नाम से स्पष्ट है एस्टर का बहुलक होता है।
  • नायलान मानव निर्मित पहला रेशा है।
  • नायलान का उपयोग पैराशूट, मछली जाल आदि बनाने में होता है।
  • पावर एल्कोहल स्पिरिट, बेंजीन और पेट्रोल का मिश्रण होता है।
  • CFC का पूरा नाम क्लोरोफ्लोरो कार्बन है। इसे फ्रीआन गैस भी कहते हैं।
  • फ्रीआन या क्लोरोफ्लोरोकार्बन का उपयोग रेफ्रिजरेटर में किया जाता है।
  • ओजोन परत के क्षरण काम कारण क्लोरोफ्लोरोकार्बन है।
  • तत्वों को दो प्रकारों में बांटा गया है – धातु और अधातु।
  • धातु ऊष्मा और विद्युत के सुचालक होते हैं।
  • धातु प्रायः ठोस अवस्था में होते हैं। लेकिन पारा एक ऐसा धातु है जो सामान्य तापमान पर भी द्रव अवस्था में रहता है।
  • धातुओं में एक विशेष चमक होती है जिसे धात्विक चमक कहते हैं।
  • धातुएं आघातवर्ध्य होती हैं अर्थात् पीटने से धातुएं फैलती हैं और उनका चादर बनाया जा सकता है।
  • सोना और चांदी सबसे अधिक आघातवर्ध्य होते हैं अर्थात् पीटने पर सबसे अधिक फैलते हैं।
  • धातुओं को खींच कर ताना भी जा सकता है। धातुओं का यह गुण तन्यता कहताता है।
  • पारा धातु न तो आघातवर्ध्य और न ही तन्य क्योंकि पारा अपवाद स्वरूप द्रव या तरल धातु है।
  • धातुओं का घनत्व ऊंचा होता है।
  • अधिकांश धातुएं खनिज अयस्क के रूप में मिलते हैं।
  • अयस्क प्राकृतिक रूप से बड़ी मात्रा में प्राप्त होने वाले ऐसे यौगिक होते हैं जिनमें पर्यीप्त वह धातु होता है।
  • सोना प्लेटिनम आदि धातुएं प्रकृति में स्वतंत्र रूप से मिलती है क्योंकि ये धातुएं कम क्रियाशील होती हैं।

Leave a Comment

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.