प्रमुख लोक नृत्य
Advertisement

प्रमुख लोक नृत्य

भारत की संस्कृति विविध है। प्रत्येक राज्य की अपनी अलग ही भाषा और सांस्कृतिक पहचान है। इसी तरह राज्यों की अलग ही लोक कला और नृत्य है। राज्यों की विभिन्न संस्कृतियाँ भारत की संस्कृति बनाती है।

भारत के लोक नृत्य UPSC, राज्य PSC, SSC और RRB परीक्षाओं के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण टॉपिक है। पढ़िए भारत के राज्यों की प्रमुख लोक नृत्य के बारे में:

राज्यप्रमुख लोक नृत्य
उत्तराखण्डकुमाऊँ झूला, थाली, पैता।
झारखण्डकरमा, सरहुल, छऊ।
आन्ध्र प्रदेशमर्दाला, कुम्भी, घण्टा मर्दाला, छड़ी नृत्य, बात कुम्भा, मंधुरी, ओट्टम, थुलाल, कालीयट्टम, कुण्डीयट्टम, कैकोट्टीकलि, भद्रकलि, टप्पातिकाली।
कर्नाटकयक्षगान, कुनीता, वीरगास्से, भूतकोला, कगा।
गुजरातगणपति भजन, रासलीला, डाण्डिया रास, गरबा, पणिहारी नृत्य, लास्या, टिप्पनी, अकोलिया भवई।
गोवादकनी, खोल झगोर।
राजस्थानकठपुतली, धापाल, जिन्दाद, पूगर, बगरिया, ख्याल, शंकरिया, गोयिका, लीला, झूलन लीला, कामड़, चरी, चंग, फुदी, गीदड़, गैर पणिहारी,  पनिहारी गणगौर।
जम्मू-कश्मीररउफ, भदजास, हिकात।
लक्षद्वीपपरिचाकाली।
अरुणाचल प्रदेशमुखौटा, युद्धनृत्य।
हरियाणाभांगड़ा, डफ, सांग, धमान।
पंजाबभांगड़ा, गिद्धा, कीकली।
तमिलनाडुकुम्भी, कावड़ी, कड़ागम, कोलाट्टम, पित्रल कोलाट्टम।
हिमाचल प्रदेशसांग्ला, चम्बा, डांगी, डण्डा नाव, डफ, धमान, थाली, जद्धा, छरवा, महाथु, छपेला।
असमखेल गोपल बिहू, किलगोया, अंकियानाट, बिछुआ, राखल, लीला, बगुरुआ, नटपूजा, होटजानाई बोर्ड लाजू तबला, चौंगवी नागानृत्य।
नागालैण्डरेगम, चोंग नोगकेम, चिन्ता कजरम, युद्धनृत्य, रवैया लिम, नूरालिप, कुर्सी नाग, चुमीके, दोहाई।
मणिपुरमहारास, नटराज, लाई हरोबा, सखाल, बसन्त रास, थाग्टा, पुगवोलोग कीतत्वम।
मिज़ोरमचेरोपान, पारखुपिला।
मेघालयबांग्ला।
मध्य प्रदेशरीना, चौत, दिवारी, नवरानी, गोन्यो, भगोरिया, करमो, पाली, डागला, छेरिया, हुल्को मांदरी, सैला, बिल्धा टपाड़ी, गोड़ा।
छत्तीसगढ़पंथी, सुआ, राउत नाचा, करमा, गौर नृत्य, सैला नृत्य, सरहुल, अटारी, चंदैनी, गेंड़ी नृत्य, डण्डानाच, एबालतोर नृत्य, ककसार, मांदरी नृत्य, दमनच, हुल्की पाटा, थापटी नाच, बिल्मा, दोरला, कोल दहका, परब, ढ़ांढ़ल, तारानृत्य।
महाराष्ट्रमोनी, बोह्दा, लेजम, लावनी, दहिकला, तमाशा, गणेश चतुर्थी, कोली, गफा, ललिता, मौरीधा बोह्दा।
बिहारवैगा, जदूर, जाया, जट-जाटिन, माधी, मूका, लुझरी, विदायत, कीर्तिनिया, पवरिया, सामा-चकेवा, जातरा, चेकवा, डांगा, झीका, सोहराई, माघा, बखो-बखावन, विदेसिया।
पश्चिम बंगालराम भेसे, गम्भीरा, जाया, बाउन, जात्रा, कीर्तन, काठी, महाल, गम्भीरा रावेश, कीर्जन काठी, ढाली, मरसिया।
उड़ीसाछाऊ, पैका, सवारी संचार, डण्डानाच, कुलनी, पुगनाट, घूमरा, जदूर, मुदारी, गरुड़ वाहन।
उत्तर प्रदेशरासलीला, नौटंकी, कुमाऊं झूला, थाली, पैता।
Advertisement

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here